Digital sewa and tour and travel guide

Just another WordPress site

  1. Home
  2. /
  3. Tour & travel
  4. /
  5. उत्तराखंड पर्यटन
  6. /
  7. रूपकुंड लेक चमोली उत्तराखण्ड | Roopkund Lake Uttarakhand

रूपकुंड लेक चमोली उत्तराखण्ड | Roopkund Lake Uttarakhand

नमस्कार दोस्तों आज के इस लेख में, में आपको रूपकुंड लेक के बारे में बताऊंगा जोकि उत्तर भारत के उत्तराखंड राज्य के चमोली जिले में स्थित है। उत्तराखंड का चमोली जिला अपने आप में प्रमुख ट्रैकिंग स्थानों के लिए काफी फेमस है। यहां पर बहुत सारे पर्वत तथा ट्रेकिंग के लिए कई सारे स्थान हैं जैसे कि सतोपंथ ग्लेशियर, कागभुसांडी ताल, हेमकुंड साहिब, फूलों की घाटी ,स्वर्ग रोहिणी, हाथी पर्वत, नीति-मल्हारी यह बहुत सारी जगह हैं जोकि ट्रेकिंग के लिए काफी फेमस हैं इन्हीं में से एक है रूपकुंड लेक। लेक यानि की झील। रूपकुंड लेक को “कंकाल झील” के नाम से भी जाना जाता है।

रूपकुंड लेक चमोली उत्तराखंड
रूपकुंड लेक चमोली उत्तराखंड

रूपकुंड लेक कहाँ स्थित है? | Roopkund jhil kahan hai

रूपकुंड (कंकाल झील) भारत में उत्तराखंड राज्य के चमोली जिले में स्थित एक हिम झील है जो अपने किनारे पर पाए गये पांच सौ से अधिक मानव कंकालों के कारण प्रसिद्ध है। यह स्थान निर्जन है और हिमालय पर लगभग 5029 मीटर (16499 फीट) की ऊंचाई पर स्थित है।

रूपकुंड झील किस राज्य में है? | Roopkund Lake is in which state?

रूपकुंड झील उत्तराखंड राज्य के चमोली जिले में, 16499 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। रूपकुंड ट्रेक की ऊंचाई 54 किलोमीटर है जिसको तय करना हर किसी के बस की बात नहीं है। इस ट्रैक को पूरा करने में आपको 8 से 10 दिन का समय लग जाएगा। ट्रेक लोहाजंग से शुरू होता है और आपको 16,499 फीट की ऊंचाई तक ले जाता है, जिसके दौरान आप वान और डिडना के विचित्र गांवों बेदनी बुग्याल को देख सकते हैं।

रूपकुंड झील ट्रेक की ऊंचाई कितनी है? | What is the height of Roopkund Lake Trek

रूपकुंड ट्रेक एक साहसिक ट्रेक है, जिसमें पहाड़, नदियों का सुंदर दृश्य, आकर्षक पर्वत, हरे-भरे जंगल और आसपास के प्राकृतिक घास के मैदान हैं। ट्रेक लोहाजंग से शुरू होता है और आपको 16,499 फीट की ऊंचाई तक ले जाता है, जिसके दौरान आप वान और डिडना के विचित्र गांवों बेदनी बुग्याल को देख सकते हैं।

रूपकुंड झील का तापमान? | Roopkund temperature

रूपकुंड झील का तापमान गर्मियों में सामान्यतः 1 से 2 डिग्री होता है यहां पर आप गर्मियों के महीनों में ही ट्रैकिंग कर सकते हैं जैसे कि मई से लेकर सितंबर तक इसके बाद यहां पर बहुत ज्यादा बर्फबारी हो जाती है जिसमें यहां जाना संभव नहीं है। अगर कोई जाना भी चाहे तो रात को यहां पर रहना संभव नहीं है क्योंकि यहां पर सर्दियों में तापमान -30 डिग्री से लेकर -40 डिग्री तक तापमान चले जाता है जिसमें कि रहना असंभव है।

रूपकुंड ट्रेक का प्रस्थान बिंदु कहाँ से है?। Roopkund trek starting point

ट्रेक का शुरुआती बिंदु लोहाजंग दर्रा है जो मोटर योग्य सड़कों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। बेदनी बुग्याल से रूपकुंड तक का ट्रेक कठिन है और यह उन लोगों के लिए है जो ठीक से तैयार हैं और ट्रेकिंग का पूर्व अनुभव रखते हैं। रूपकुंड बेदनी बुग्याल से 14 किमी दूर स्थित है।

रूपकुंड ट्रेक रूट मेप? | Roopkund trek route map

ऋषिकेश से रूपकुंड के लिए सड़क मार्ग –

हरिद्वार – ऋषिकेश – रुद्रप्रयाग – कर्णप्रयाग – लोहाजंग दर्रा – ट्रेकिंग (54 किमी) – रूपकुंड

रूपकुंड ट्रेक सबसे अच्छा समय? | Roopkund trek best time

जून महीने में बेदनी के जुड़वां, बुग्याल तथा घास के मैदानों को देखने का सही समय है, क्योंकि इस समय तक घास के मैदान अपने पूरे वसंत में रहते हैं। जुलाई के अंतिम सप्ताह और अक्टूबर से पहले के बीच ट्रेकिंग करना रूपकुंड में एक और अच्छा ट्रेकिंग सीजन है।

रूपकुंड ट्रेक प्रतिबंध क्यों है? | Why is Roopkund trek banned?

रूपकुंड एक प्रसिद्ध ट्रेक है जो कई ट्रेकर्स को आकर्षित करता है लेकिन रूपकुंड ट्रेक को उस नुकसान के कारण प्रतिबंधित कर दिया गया था जिसमें हमें अल्पाइन घास के मैदानों की जैव विविधता के कारण नुकसान हुआ है लेकिन रूपकुंड ट्रेक को पूर्ण प्रतिबंधित नहीं किया गया है। लेकिन उत्तराखंड राज्य के बुग्याल या घास के मैदानों में रात भर डेरा डालना प्रतिबंधित है, जिससे रूपकुंड तक ट्रेक करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.