Digital sewa and tour and travel guide

Just another WordPress site

  1. Home
  2. /
  3. internet
  4. /
  5. पीएम किसान सम्मान निधि | pm kissan samman nidhi e-kyc process

पीएम किसान सम्मान निधि | pm kissan samman nidhi e-kyc process

pm kissan samman nidhiनमस्कार दोस्तों कैसे हैं? आजके इस लेख में मैं आपको बताने वाला हूं की प्रधानमंत्री द्वारा किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि के अंतर्गत सालाना ₹6000 की धनराशि दी जाती है। अभी तक इसके तहत किसानों के खाते में 10 किस्त डाली जा चुकी हैं और अप्रैल 2022 में अब 11वीं किस्त दी जानी है।

लेकिन 11वीं किस्त के लिए सरकार ने इसमें कुछ बदलाव किए हैं। 11वीं किस्त को पाने के लिए आपको पीएम किसान सम्मान निधि के पोर्टल पर आपको ईकेवाईसी (e-kyc) करना होगा। नहीं तो आप 11वीं किस्त प्राप्त नहीं कर सकेंगे।

तो चलिए आपको बताते हैं इसके लिए क्या प्रोसेस है। किस प्रकार आप ईकेवाईसी करेंगे। तो मैं आज आपको स्टेप बाय स्टेप बताने वाला हूं कि किस प्रकार आप घर से ही अपने फोन या लैपटॉप के माध्यम से इसे पूरा कर सकते हैं तो चलिए आइए जानते हैं।

यह भी पढ़ें : E-shram card ke fayde our nuksaan

e-kyc क्या होता है? | e-kyc का फूल फॉर्म क्या होता है?

दोस्तों, आपके दिमाग में सवाल आ रहा होगा कि आखिर यह ई-केवाईसी होता क्या है? तो चलिए आपको बताते हैं अक्सर आपको ध्यान होगा कि जब आप बैंक में जाते हैं तो वहां पर भी आपसे कई बार केवाईसी फॉर्म भरवाया या लिया जाता है जिसमें आपको एक केवाईसी फॉर्म भरवाया जाता है जिसमें आपको एक फोटो और उस फॉर्म को भरना होता है जिसमें, आपकी सारी डिटेल जैसे – नाम, पता, मोबाइल नंबर और हस्ताक्षर वगैरह भरे जाते हैं।

उसके साथ आपको अपने एक आधार कार्ड की फोटो कॉपी लगानी पड़ती है जिससे बैंक को यह पता चल जाता है कि वास्तव में यह कोई कस्टमर है या वाकई में कोई व्यक्ति या महिला है। इसी को केवाईसी या ईकेवाईसी कहां जाता है। भले ही यहां पर यह प्रोसेस ऑनलाइन है। e-kyc का फूल फॉर्म “Electronic know your Customer” होता है।

e-kyc ऑनलाइन प्रोसेस कैसे करें?

  • Step 1: सबसे पहले आपको गूगल सर्च पर जाकर पीएम किसान सम्मान निधि के पोर्टल या लिंक (https://pmkisan.gov.in) पर क्लिक कर देना है। आप इस लिंक के माध्यम से भी क्लिक करके डायरेक्ट आप पीएम किसान सम्मान निधि के पोर्टल पर पहुंच जाएंगे। जैसे ही आपके सामने पेश खुलेगा आपको वहां पर अपना आधार नंबर डालकर ओके कर लेना है।अब आपके सामने कुछ इस प्रकार का (जैसा कि नीचे इमेज में दिखाया गया है) पेजव्यू खुल जाएगा। में आपको बेहतरीन तरीके से समझाने के लिए इमेज के माध्यम से बताने का भी प्रयास कर रहा हूं जिससे आपको समझने में आसानी होगी।
  • Step 2: अब आपको वहां पर आपका आधार नंबर डालने के लिए कहा गया होगा। अब आपको वहां पर अपना आधार नंबर डालकर सर्च ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • Step 3: जैसे ही आप वहां पर अपना आधार नंबर डालकर सर्च ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो फिर वहां पर एक दूसरा ऑप्शन खुल जाएगा जिसमें आपका मोबाइल नंबर मांगा होगा। फिर आपको वहां पर अपना मोबाइल नंबर डालना होगा। फिर आपको “Get Mobile OTP” ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। नोट: आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि जो पहला मोबाईल नंबर है वह कोई दूसरा नंबर भी हो सकता है जो आपने पीएम किसान सम्मान निधि पोर्टल पर उस समय अपने नजदीकी ऑफिस (कृषि विभाग/विकाश भवन) में रजिस्ट्रेशन के दौरान दर्ज कराया होगा।
  • Step 4: फिर आपके मोबाइल नंबर पर एक आधार ओटीपी आएगा आपको वहां पर उस ओटीपी को डालकर “Submit OTP” पर क्लिक कर देना है (जैसा कि नीचे इमेज में दिखाया गया है)।
  • Step 5: Step 4 कंप्लीट हो जाने के बाद अब वहां पर एक नया आधार रजिस्टर मोबाइल ओटीपी डालने के लिए आ रहा होगा। यह ओटीवी भी आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ही आएगा। अब आपको यहां पर वह दूसरा ओटीपी डाल देना है जो आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर दोबारा आया होगा। फिर आपको वह ओटीपी यहां पर डालकर “Submit For Auth” ऑप्शन पर क्लिक कर देना है और आप देखेंगे कि ऊपर पर लिखा हुआ आएगा EKYC is successfully submitted जैसा कि आप नीचे इमेज में देख पा रहे होंगे।

क्या हम यह प्रोसेस अपने मोबाइल से कर सकते हैं?

जी हां आप इसे अपने खुद के मोबाइल या लैपटॉप से कहीं भी बैठे आसानी से कर सकते हैं।

क्या इसके लिए आधार से लिंक मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है?

आपको बता दें कि जो भी मोबाइल नंबर आपके आधार से लिंक होगा वह आपके पास होना बहुत ही अनिवार्य है। बिना इसके आप कुछ नहीं कर सकते।

क्या ईकेवाईसी करना अनिवार्य है?

जी हां, आपको बता दें पीएम किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त के लिए सरकार ने ईकेवाईसी अनिवार्य कर दिया है। बिना ईकेवाईसी के आप 11वीं किस्त का लाभ नहीं ले सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.