Digital sewa and tour and travel guide

Just another WordPress site

  1. Home
  2. /
  3. Tour & travel
  4. /
  5. उत्तराखंड पर्यटन
  6. /
  7. पंवाली कांठा | पंवाली कांठा बुग्याल | टिहरी गढ़वाल उत्तराखंड

पंवाली कांठा | पंवाली कांठा बुग्याल | टिहरी गढ़वाल उत्तराखंड

नमस्कार दोस्तों आज के इस लेख में, में आपको उत्तराखंड के टिहरी जनपद में स्थित पंवाली कांठा बुग्याल के बारे में बताऊंगा। दोस्तों यह बुग्याल ट्रेकिंग के लिए बहुत ही फेमस है। यहां पर काफी संख्या में पर्यटक आते हैं। यह टिहरी के गुत्तु नामक जगह से यहां के लिए 8 किलोमीटर की ट्रैकिंग की जा सकती है। यहां पर ट्रैकिंग करने के लिए आपको अपना ट्रैकिंग का पूरा सामान रखना होगा जैसे कि कैंपिंग टेंट खाने पीने का सामान तथा रहने योग्य हल्की फुल्की चीजें।

यह गढ़वाल में एक काफी प्रसिद्ध ट्रैकिंग प्लेस है जिसको पवाले कांटा बुग्याल के नाम से मुख्य रूप से जाना जाता है यह समुद्र तल से 11500 फीट की ऊंचाई पर स्थित है यहां सर्दियों में तो बर्फ से लदी चोटिया आपको दिखाई देंगी लेकिन गर्मियों का सीजन आते ही इन बालों की बर्फ पिघल जाती है और यहां पर हरे-भरे घास के बुग्याल बहुत सारे किस्म के फूल आपको यहां पर देखने को मिलेंगे

पंवाली कांठा टिहरी गढ़वाल
पंवाली कांठा टिहरी गढ़वाल

पंवाली कांठा उत्तराखंड | Panwali Kantha Uttarakhand

पंवाली कांठा टिहरी जिले में स्थित एक बहुत सुंदर ट्रेक में से एक है | यहाँ गढ़वाल हिमालय के उच्च ऊंचाई वाले घास के मैदान (बुग्याल) हैं, जिनमे विभिन्न प्रकार के आकर्षक फूल, जड़ी बूटी पाई जाती हैं | अप्रैल और मई के महीने में यह स्थान लाल और गुलाबी रोड़ोडेन्ड्रोस (हीथर परिवार की झाड़ी या छोटे पौधे जो घंटी के आकार के फूलों के गुच्छो को और आमतौर पर बड़ी पत्तियों को साथ लिए होते हैं ) से सदाबहार रहता है |

पंवाली कांठा ट्रेक की दूरी | Panwali Kantha trek distance

पंवाली कांठा समुद्र तल से 11500 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यह गौरमांडा नामक जगह से करीब 8 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यानी कि यहां पर 8 किलोमीटर ट्रैकिंग करने के बाद आप पंवाली कांठा बुग्याल पहुंच सकते हैं इस ट्रैक की पैदल दूरी 8 किलोमीटर है।

पंवाली कांठा ट्रेक मेप | panwali kantha trek map

ऋषिकेश – गुट्टू – गौरमांडा – पंवाली कांठा

पंवाली कांठा बुग्याल
पंवाली कांठा बुग्याल

पंवाली कांठा का तापमान | panwali kantha temperature

कव्वाली कांटा भोपाल का तापमान गर्मियों में 15 से 20 डिग्री तक रहता है और वही सर्दियों में की बात अगर करें तो यह तापमान काफी कम हो जाता है जैसे कि 3 से 5 डिग्री तक यहां पर सर्दियों में तापमान हो जाता है और यहां पर भी काफी मात्रा में बर्फ गिर जाती है इसलिए अगर आप कैंपिंग के लिए यहां पर जाना चाहते हैं तो गर्मियों के समय में ही आप यहां पर जाइए जिससे कि आपको ज्यादा ठंड का सामना न करना पड़े।

पंवाली कांठा की ऊंचाई | Panwali Kantha height

पंवाली कांठा समुद्र तल से 11500 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। इस ट्रैक की दूरी 8 किलोमीटर है अगर आप सेम डे भी जाना चाहते हैं तो कर सकते हैं और अगर आप यहां पर नाइट होल्ड भी करना चाहते हैं तो आप के लिए फिर 2 दिन चाहिए क्योंकि एक दिन आपको वहां पर रुकना पड़ेगा और दूसरे दिन आप वापस अपने घर लौट सकते हैं तो 2 दिन यहां पर घूमने के लिए बहुत हैं।

पंवाली कांठा ट्रेक की दूरी कितनी है? | Panwali Kantha trek distance

आप के लिए फिर 2 दिन चाहिए क्योंकि एक दिन आपको वहां पर रुकना पड़ेगा और दूसरे दिन आप वापस अपने घर लौट सकते हैं तो 2 दिन यहां पर घूमने के लिए बहुत हैं। इस ट्रैक की दूरी 8 किलोमीटर है ।

घुत्तू से पंवाली कांठा | Ghuttu to Panwali kantha

घुट्टू से पंवाली कांठा बुग्याल ट्रेक रूट हिमालय के गढ़वाल क्षेत्र में स्थित है और एक सरल ट्रेकिंग ट्रेल है जो आपको हिमालय की चोटियों के सुंदर दृश्य प्रस्तुत करता है। घुट्टू से पनवाली कांथा ट्रेक रूट शुरुआती लोगों और मध्यम स्तर की फिटनेस वाले किसी भी व्यक्ति के लिए उपयुक्त है।

घुट्टू से पंवाली कांठा समुद्र तल से लगभग 3965 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है, इस ट्रेक में संकरी लकीरों से बचते हुए कोमल ढलान हैं। पर्वत श्रृंखलाओं के मनोरम दृश्यों के अलावा, यह केदारनाथ पीक और ट्रेकिंग ट्रेल्स के दृश्य द्वारा धन्य है।

त्रियुगीनारायण से पंवाली कांठा | Triyuginarayan to Panwali Kantha

पंवाली कांठा हिमालय श्रृंखला का शानदार 360 डिग्री दृश्य प्रस्तुत करता है, और यहां से सूर्योदय और सूर्यास्त के दृश्य पृथ्वी पर स्वर्ग जैसा महसूस करते हैं। पनवाली कांथा उत्तराखंड में समुद्र तल से 10820 फीट की ऊंचाई पर स्थित घने जंगलों के बीच स्थित एक उच्च ऊंचाई वाला घास का मैदान है जो चमोली, उत्तरकाशी और टिहरी जिलों से पहुंचा जा सकता है।

इस ट्रेक के दौरान, हम त्रिजुगीनारायण मंदिर भी जाते हैं जो भगवान विष्णु को समर्पित एक प्रसिद्ध मंदिर है। त्रिजुगीनारायण (7200 फीट) केदारनाथ मंदिर निर्माण के दौरान उसी शैली में बना एक प्राचीन मंदिर है, केदारनाथ मंदिर के दर्शन के लिए यह पुराना मार्ग था, फिर भी, कई संत केदारनाथ मंदिर जाने के लिए इस प्राचीन मार्ग का अनुसरण करते हैं। हम सोनप्रयाग से पंवाली कांठा के लिए अपना ट्रेक शुरू करते हैं।

पंवाली कांठा ट्रेक का खर्चा | Panwali kantha Trek cost

अगर आप यहां पर घूमने जाना चाहते हैं तो यहां पर आपका प्रति व्यक्ति तीन से चार हजार खर्चा आ जाएगा यह तभी पॉसिबल है अगर आप नजदीकी स्थान से आ रहे हैं। अगर आप कहीं दूर से आ रहे हैं तो यह आपका खर्चा फिर बढ़ जाएगा जितने भी दूर से आप आ रहे हैं उतना ही आपका खर्चा और बढ़ जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.