Digital sewa and tour and travel guide

Just another WordPress site

  1. Home
  2. /
  3. internet
  4. /
  5. Network kitne type ke hote hai

Network kitne type ke hote hai

अक्सर लोग आपस में बात करते रहते हैं की ये नेटवर्क होता क्या है? जो भी बाते सीखते या जानते हैं उसे दुसरो तक पहुंचाते है। इसी वजह से आज हम Technology में इतने आगे आ बढ़ पाए है।

एक आदमी ने टेलीफोन बनाया, उसने उसको बनाने का तरीका दुसरो को भी बताया, फिर दूसरे लोगो ने उसी तरीके द्वारा दूसरा टेलीफोन बनाया फिर धीरे-धीरे पूरी दुनिया में टेलीफोन का इस्तेमाल होने लगा। यही फ़ायदा होता है, information का एक जगह से दूसरी जगह पसारित होने का। जिससे नयी-नयी Technology का विकाश होता है। वो Information किसी भी रूप में हो सकती उदाहरण के लिए जैसे की – Text , Photo , Videos या Audios।

अब इन Information या डाटा को पहले के समय में लोग एक दूसरे को बोल कर या पेपर पर लिख कर एक जगह से दूसरी जगह भेजते थे। फिर Abacus ( जिसे गणक सांचा भी कह सकते हैं, एक गणन उपकरण होता है ) का इस्तेमाल जवाब भेजने के लिए होने लगा, अब ये काम कम्प्यूटर करते है। तो चलिए जानते है कि, नेटवर्क क्या है? और कैसे नेटवर्किंग हमारे लिए कैसे फ़ायदेमं है?

यह भी पढ़े : HTTP और WWW में क्या अंतर है?

नेटवर्क (Network) –

जब एक से अधिक computer आपस में एक दूसरे से जुड़े होते है, किसी Medium के द्वारा और आपस में सूचनाऊँ को शेयर करते है तो, उसे नेटवर्क कहा जाता है।

एक नेटवर्क में दो या दो से अधिक कम्प्यूटर होते हैं। जो संसाधनों (जैसे प्रिंटर और सीडी) को साझा करने, फाइलों का आदान-प्रदान करने या इलेक्ट्रॉनिक संचार की अनुमति देने के लिए जुड़े होते हैं। नेटवर्क के कंप्यूटरों को केबल, टेलीफोन लाइनों, रेडियो तरंगों, सैटेलाइट या इन्फ्रारेड लाइट बीम के माध्यम से जोड़ा जा सकता है।

जब दो कम्प्यूटरों को एक दूसरे से जोड़ने के के लिए तार (wire) का इस्तेमाल कर सकते है। जैसे की – Coaxial Cable या fiber optics,Twisted Pair Cable, या फिर वायरलेस कनेक्शन में Radio Wave, Bluetooth, इंफ्रारेड या सैटेलाइट कनेक्शन का इस्तेमाल आप कर सकते है।

नेटवर्क कितने प्रकार के होते हैं –

कम्प्यूटर नेटवर्क को सामान्यतः तीन भागों में बाटा जाता है –

  • LAN ( LOCAL AREA NETWORK )
  • MAN ( METROPOLITAN AREA NETWORK )
  • WAN ( WIDE AREA NETWORK )

इनके अलावा भी कुछ Network और है जैसे की –

  • PAN
  • और CAN

LAN ( LOCAL AREA NETWORK ) –

LAN सबसे सामान्य नेटवर्क में से एक होता है। LAN नेटवर्क का इस्तेमाल अक्सर आपको सब जगह मिल जाएगा। जैसे – आपका ऑफिस हो , घर हो या बिजनेस, कोगे या स्कूलों में, प्रिंटिंग करने या resources का शेयर करने के लिए होता है।
एक LAN network दो कम्प्यूटर के बीच भी बन सकता है, वैसे LAN में 50 कम्प्यूटर तक जुड़ सकते है। ज़्यादातर LAN Network wire से कनेक्ट होते है, पर आज कल LAN वायरलेस भी कनेक्ट हो रहे है।

LAN का ऑफिस या कॉलेज में संसाधन साझा करना के लिए इस्तेमाल होता है। मतलब की एक Main Printer होता है, जिस से सारे कंप्यूटर एक दूसरे से कनेक्ट होते है। जब भी किसी का कुछ प्रिंट करना है तो, वो किसी भी कंप्यूटर से एक ही प्रिंटर पर प्रिन्ट कर सकते हैं।इसका प्रयोग Document Sharing के लिए भी किया जाता है। आपका सारा डाटा एक कम्प्यूटर में store रहता है और बाकी अन्य लोग भी अपने-अपने कम्प्यूटर से वो डाटा ले सकते है।

LAN ( LOCAL AREA NETWORK ) नेटवर्क की खासियत –

  • LAN NETWORK आसानी से बन जाता है।
  • LAN में DATA ट्रांसफर करने की स्पीड तेज़ होती है।
  • LAN का इस्तेमाल घर, COLLEGE या ऑफिस में होता है।
  • LAN नेटवर्क की एरिया को कवर करने की दूरी सीमित होती है।

METROPOLITAN AREA NETWORK –

यह आमतौर पर एक नेटवर्क होता है जो LAN से बड़ा होता है, लेकिन WAN से छोटा होता है, और इसमें दोनों के तत्व शामिल होते हैं। यह आमतौर पर किसी कस्बे या शहर में फैला होता है। इसका उपयोग कॉलेज, स्कूल या कार्यालयों को जोड़ने के लिए किया जाता है। MAN में लोकल एरिया नेटवर्क की तुलना में अधिक दूरी तय करने की क्षमता होती है। इस नेटवर्क की रेंज 10 से 100 KM के बीच होती है। कई LAN को मिलाकर एक MAN बनाया जा सकता है। बड़े व्यापारिक संगठन अपने अन्य कार्यालयों से जुड़ने के लिए MAN का ही उपयोग करते हैं।

MAN नेटवर्क की विशेषताएं –

  • MAN पूरे शहर को जोड़ सकता है।
  • लोकल एरिया नेटवर्क की तुलना में MAN को बनाने में अधिक लागत आती है।
  • MAN नेटवर्क में डेटा ट्रांसफर की गति मध्यम होती है।

WIDE AREA NETWORK –

WAN नेटवर्क बड़ी भौतिक दूरी पर कंप्यूटरों को एक साथ जोड़ते हैं। यह दूर से ही एक बड़े नेटवर्क से कनेक्ट करता है और दूर होने पर भी उन्हें कम्यूनीकेट करने की अनुमति देता है। इंटरनेट एक WAN है, और दुनिया भर के सभी कंप्यूटरों को एक साथ जोड़ता है।

WAN दो प्रकार के होते हैं –

  1. Global WAN
  2. Enterprise WAN

WAN से जुड़े नेटवर्क ज्यादातर सार्वजनिक नेटवर्क का उपयोग करते हैं। जैसे – टेलीफोन लाइन, लीज्ड लाइन, या सैटेलाइट, बैंकिंग नेटवर्क, रेलवे रिजर्वेशन नेटवर्क, सैन्य नेटवर्क और एयरलाइन रिजर्वेशन नेटवर्क जैसे कई व्यापक क्षेत्र नेटवर्क हैं।

WAN नेटवर्क की विशेषताएं –

  • यह अधिकतम क्षेत्र को कवर करता है, इसे दो देशों के बीच भी जोड़ा जा सकता है।
  • इस नेटवर्क को बनाना और बनाए रखना एक मुश्किल काम है।
  • इस नेटवर्क की डेटा भेजने की गति तेज होती है।

यह भी पढ़े : Who Invented The Internet in Hindi

वायरलेस नेटवर्क कितने प्रकार के होते हैं?

वायरलेस नेटवर्क के प्रकार
वायरलेस पेन (WPAN) …
वायरलेस लेन (WLAN) …
वायरलेस मैश नेटवर्क …
वायरलेस मेन (WMAN) …
वायरलेस वेन (WWAN) …
ग्लोबल एरिया नेटवर्क (Global area network) …
स्पेस नेटवर्क (Space Network) …
मोबिलिटी (Mobility)

आम तौर पर कितने तरह के नेटवर्क प्रयोग होते हैं?

Local Area Network (LAN क्या है)
Wide Area Network (WAN क्या है)
Metropolitan Area Network (MAN क्या है)
Personal Area Network (PAN क्या है)
Home Area Network (HAN क्या है)

क्या वाइड एरिया नेटवर्क की आवश्यकता होती है?

वाइड एरिया नेटवर्क ( wide area network अथवा WAN ) दूरसंचार नेटवर्क अथवा कंप्यूटर नेटवर्क है जो, विशाल भौगोलिक दूरियों तक विस्तृत होता है। वाइड एरिया नेटवर्क (WAN) एक दूरसंचार नेटवर्क है जो, कंप्यूटर नेटवर्किंग के प्राथमिक उद्देश्य के लिए एक बड़े भौगोलिक क्षेत्र में फैला हुआ है।

विभिन्न प्रकार के नेटवर्क कौन से हैं?समझाइए?

नेटवर्क की तीन कैटेगरी होती है:
LAN (लोकल एरिया नेटवर्क )
MAN (मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क )
WAN (वाइड एरिया नेटवर्क)

नेटवर्क टोपोलॉजी से आप क्या समझते हैं?

नेटवर्क टोपोलॉजी विभिन्न नोड्स या टर्मिनल को आपस में जोड़ने का एक तरीका है । यह विभिन्न नोड्स के बीच भौतिक संरचना को दर्शाता है । नेटवर्क संरचना का अर्थ है कि नेटवर्क तारों की तर्कपूर्ण व्यवस्था । अन्य शब्दों में कहें तो, कम्प्यूटरों का आपस में जुड़ने का ढंग ही नेटवर्क टोपोलॉजी कहलाता है ।

लेन ( LAN )और वैन ( WAN ) में क्या अंतर है?

लैन द्वारा कवर किया गया भौगोलिक क्षेत्र छोटा है, जबकि, MAN अपेक्षाकृत बड़ा है और WAN सभी में सबसे बड़ा है। LAN स्कूलों, अस्पतालों या इमारतों तक ही सीमित है, जबकि, MAN छोटे शहरों या शहरों को जोड़ता है और दूसरी ओर, WAN देश या देशों के समूह को कवर करता है।
LAN : WiFi, ईथरनेट केबल्स।
WAN : ऑप्टिक तारों, माइक्रोवेव, सैटेलाइट।

नेटवर्क क्या होता है?

नेटवर्क क्या है – जब एक से अधिक कम्प्युटर आपस में किसी माध्यम (तार, बेतार) के जरिये एक-दूसरे से जुड जाते हैं तो, इसे नेटवर्क कहते हैं। इस दौरान ये आपस में एक-दूसरे से संचार, डाटा आदान-प्रदान, संसाधन शेयर इत्यादि कार्य करते हैं।

4 thoughts on “Network kitne type ke hote hai

Leave a Reply

Your email address will not be published.