Digital sewa and tour and travel guide

Just another WordPress site

  1. Home
  2. /
  3. Tour & travel
  4. /
  5. उत्तराखंड पर्यटन
  6. /
  7. मनसा देवी मन्दिर कहाँ है?

मनसा देवी मन्दिर कहाँ है?

मनसा देवी मन्दिर उत्तराण्ड – यह मंदिर हरिद्वार शहर से देखने पर साफ-साफ नजर आता है। माता मनसा देवी कश्यप ऋषि की पुत्री थी, जो कश्यप ऋषि के मन से उत्पन्न हुई थीं, इसलिए उन्हें मनसा देवी के नाम से जाना जाता है। मनसा देवी मंदिर हरिद्वार में स्थित 51 शक्ति पीठों में से एक है, जो हरिद्वार मुख्य शहर से करीब 5 किमी. की दूरी पर पहाड़ की चोटी पर स्थित है। कुछ लोगों का कहना ये भी है कि माता मनसा देवी भगवान शिव की पुत्री हैं।

मनसा देवी मन्दिर हरिद्वार
मनसा देवी मन्दिर हरिद्वार

मनसा देवी मन्दिर कहाँ पर स्थित है? | Where is Manasa Devi Temple located?

मनसा देवी मन्दिर उत्तराखंड राज्य के हरिद्वार जिले में स्थित है। मनसा देवी मन्दिर जिला मुख्यालय से 05 किमी की दूरी पर स्थित है।

मनसा देवी मन्दिर कैसे जाएं? | How to reach Manasa Devi Temple?

सड़क मार्ग से मनसा देवी मन्दिर कैसे पहुंचें? (By Road) –

मनसा देवी मन्दिर″ – मनसा देवी मन्दिर जाने के लिए आपको सबसे पहले आपको हरिद्वार पहुँचना होगा। जोकि दिल्ली से हरिद्वार राष्ट्रीय राजमार्ग 334 से होकर जाता है। हरिद्वार पहुंचते ही आपको मनसा देवी मन्दिर के लिए टेक्सी या ऑटो मिल जायेगी। आप चाहें तो यहाँ से प्राइवेट कार बुक भी कर सकते हैं। दिल्ली से हरिद्वार की दूरी 245 किलोमीटर है जोकि राष्ट्रीय राजमार्ग 334 से होकर जाता है। इसमें आपको करीब 4 घंटे 31 मिनट का समय लग जाता है।

ट्रेन मार्ग से मनसा देवी मन्दिर कैसे पहुंचें? ( By Train ) –

मनसा देवी मन्दिर के सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन हरिद्वार में ही स्थित है। यहां से आपको मनसा देवी मन्दिर के लिए टेक्सी या ऑटो मिल जायेगी। आप चाहें तो यहाँ से प्राइवेट कार बुक भी कर सकते हैं। हरिद्वार बस और ट्रेन दोनों से देश के सभी भागों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

हवाई मार्ग से मनसा देवी मन्दिर कैसे पहुंचें? ( By Air ) –

जॉली ग्रांट देहरादून हवाई अड्डा, हरिद्वार का निकटतम हवाई अड्डा है जो 72 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। जॉली ग्रांट हवाई अड्डे से टैक्सी आसानी से उपलब्ध हैं। जॉली ग्रांट हवाई अड्डा दैनिक उड़ानों के साथ दिल्ली से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है और मोटर योग्य सड़कों द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

“हरि का द्वार” हरिद्वार

उत्तररांचल प्रदेश में हरिद्वार अर्थात हरि का द्वार है। इसे गंगा द्वार और पुराणों में इसे मायापुरी क्षेत्र कहा जाता है। यहां पर पौराणिक काल के कई प्रसिद्ध और चमत्कारिक स्थान है। यहां पर माता के 3 चमत्कारिक स्थान है। पहला मायादेवी शक्तिपीठ, दूसरा चंडी देवी मंदिर और तीसरा मनसा देवी मंदिर।

हरिद्वार शहर में शक्ति त्रिकोण है। इसके एक कोने पर नीलपर्वत पर स्थित भगवती देवी चंडी का प्रसिद्ध स्थान है। दूसरे परदक्षेश्वर स्थान वाली पार्वती। कहते हैं कि यहीं पर सती योग अग्नि में भस्म हुई थीं और तीसरे पर बिल्वपर्वतवासिनी मनसादेवीविराजमान हैं। यह भी कहा जाता है कि यहां पर माता सती का मन गिरा था इसलिए यह स्थान मनसा नाम से प्रसिद्ध हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.